Naye Pallav

Publisher

सौंदर्य : राज की बात है यह

सौंदर्य के मेले में आज तरह-तरह की चीजें उपलब्ध हैं। बाल से लेकर नख तक को सजाने-संवारने की दुकान हर गली में दिखती है। कोई व्यक्ति इन दुकानों से कोई प्रोडक्ट खरीदकर एवं प्रयोग कर सुन्दर दिखना चाहता है, तो कोई नीम-हकीम के चक्कर में लगा है। इन सबके बीच सौंदर्य विषेषज्ञों की दुकानें भी सबको आमंत्रित करती दिखती हैं। ऐसे में आज के आर्थिक युग के कम बजट पाकेट से क्या-क्या संभव है। जाहिर है लोग आवष्यक आवष्यकताओं की पूर्ति पहले करना चाहेंगे। फिर सुन्दर दिखें तो कैसे। हम अपने घर में मौजूद चीजों का प्रयोग कर भी बन सकते हैं सुन्दर एवं हसीना। बस कुछ जानकारी एवं समय देने की आवष्यकता है। तो पेष है सुन्दर बनने के कुछ टिप्स :

  • दूध या मलाई में नींबू का रस मिलाकर लगाने से झाइयां दूर होती हैं।
  • केषों में तेल मालीष करने के बाद गर्म पानी में डुबोकर अच्छी तरह नीचोड़ी हुई तौलीया को लें और सीर के चारों तरफ लपेट लें, यह क्रिया एक या दो बार करें। इससे बाल मजबूत होते हैं।
  • मेथी पाउडर, नीम की पत्तियों का पाउडर बनाकर बराबर मात्रा में लेकर पेस्ट बनाएं। पेस्ट को सीर में लगायें। इससे बाल स्वस्थ रहता है।
  • चमेली के तेल में नींबू डालकर बालांे में लगाने से खुष्की दूर होती है।
  • बालों को सप्ताह में दो बार धोने चाहिए। इससे बाल साफ रहेगा एवं धुल-मिट्टी नहीं जमेंगे।
  • नींबू का रस मीलाकर बालों में अच्छी तरह मालीष करें। मालीष से रक्त संचार बढ़ेगा एवं बालों की जड़े मजबूत होंगी और झड़ना रूकेगा।
  • खीरे के पतले-पतले टुकड़े चेहरे पर लगाकर थोड़ी देर लेट जायें, इससे झुरीयां दूर हो जाती हैं।
  • चेचक के दागों पर लगाने के लिए भींगी हुई मसुर की दाल को दूध में मिलाकर पीस लें और उससे उबटन करें। दाग हल्के पड़ जायेंगे।
  • संतरे का छिलका पाउडर, नींबू छिलका पाउडर, मुलतानी मिट्टी दो-दो चम्मच गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बनाकर लगाये। 15-20 मीनट बाद गुलाब जल से मलकर उसे साफ करें। इससे चेहरा न सिर्फ साफ होगा, बल्कि चमक भी आ जायेगी। यह चेहरे से अतिरिक्त तेल को सोख लेता है।
  • कपूर लोषन में भीगें फाहे रूई से चेहरा तथा गर्दन को साफ करें। कपूर लोषन बनाने के लिए 500 मिली लिटर में एक चम्मच कपूर पाउडर मिलायंे।
  • संतरे के छिलके को छांह में सुखाकर चूर्ण बना लें। फिर पतले कपड़े से छानकर उसमें बेसन मिलाकर उबटन बना लें। इसे चेहरे पर लगाने से दाग, झाई, मुंहासे दूर हो जाते हैं तथा चेहरा कांतीमय हो उठता है।
  • चेहरे और षरीर पर होने वाली फूंसियां दूर करने के लिए दही और बेसन बराबर मात्रा में मिलाकर लगायें। आठ-दस दिनों के नियमित प्रयोग से लाभ होगा।
  • दही, बेसन का लेप त्वचा की सफाई के लिए भी लगाया जाता है।
  • अपने मुहासों को दबाये या नोचे नहीं। ऐसा करने से दाग होने की संभावना बनी रहती है। चेहरे को दिन में दो-तीन बार साफ पानी से धोना ठीक रहता है।
  • आलू को पीसकर पतले-पतले कपड़े में रखकर पोटली जैसा बना लें। इसे आंखों के नीचे हल्के हाथों से मले, डार्क सर्कल दूर हो जायेगा।
  • एक बादाम के गीरी को चार तुलसी के साथ पीस लें और आंखों के नीचे लगायें। 15 मीनट बाद ठंढे पानी से धो दें। इससे आंखों के पास बन आए काले धब्बेे खत्म हो जायेंगे।
  • एक बादाम को रात भर दूध में भींगो दें। सुबह उठकर पीस लें। इसे आंखों के डार्क सर्कल पर लगायें। सुख जाने पर पानी से धो दें। ऐसा नियमित करने से डार्क सर्कल नहीं होते हैं।
  • खीरे को काटने एवं उसे घीसने से जो झाग निकलता है, उसे आंखों के डार्क सर्कल पर लगाने से दूर होता है।
  • अगर आपकी त्वचा तैलीय है तो बादाम के तेल में नींबू का रस मिलाकर लगायें।
  • लौंग, मुल्तानी मिट्टी, कपूर और नीम की पŸिायों को महीन पीसकर इसका लेप चेहरे पर लगाने से फोड़े-फुन्सियां समाप्त हो जाती हैं।
  • सोने से पूर्व मेकअप उतारना न भूलें। मेकअप उतारने के लिए सबसे आसान अैार प्राकृतिक उपाय है, रूई के फाहे पर कच्चा दूध लेकर उतारें। त्वचा तैलीय है तो दूध के साथ दो-चार बूंद नींबू रस डाल दें।
  • साबुन के प्रयोग से बचें। साबुन की जगह छाया में सुखाया गया संतरे के छीलके का पाउडर, षुद्ध हल्दी, चने का आटा, गुलाब जल मिलाकर इसे पेस्ट के रूप में प्रयोग करें।
  • प्रतिदिन 7 या 10 धुले साफ तुलसी के पŸो चबायें। इससे मसूड़े स्वस्थ रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Get
Your
Book
Published
C
O
N
T
A
C
T